Heart Touching Shayari 2 Lines In Hindi

Heart Touching Shayari 2 Lines In Hindi - Ajnabi Sahab Ki Femous Shayari

Ajnabi Sahab Ne Mannat Mangi Hai

Mannat Mein Tumhe Manata Hai Nahi Koi Jannat Mangi Hai

अजनबी साहब ने मन्नत मांगी है 

मन्नत में तुम्हें मांगता है नहीं कोई जन्नत मांगी है


De Diya Ajnabi Sahab Ko Dokha

Jana Aapko Aapke Dil Ne Ek Pal Ke Liye Bhi Na Roka

दे दिया अजनबी साहब को धोखा 

जाना आपको आपके दिल ने एक पल के लिए भी ना रोका


Jab Se Dekha Hai Aapko 

Gum Rehte Hai Aapke Khayalon Mein 

Ajnabi Sahab Sote Nahi Hai Raat Ko

जब से देखा है आपको 

गुम रहते हैं आपके ख्यालों में 

अजनबी साहब सोते नहीं है रातों को


Kon Hai Aapke Dil Mein ye na bataya aapne 

Jana ajnabi sahab ko aaj fir se sataya aapne

कौन है आपके दिल में ये ना बताया आपने 

जाना अजनबी साहब को आज फिर से सताया आपने


Aapke Naam Se Hi Dil Dhadakta Hai Joro Se

Jo Mohabbat Ki Hai ajnabi Sahab Ne Aapse

Wo Kahan Hoti Hai Aajkal Ke Chhoron Se

आपके नाम से ही दिल धड़कता है जोरों से 

जो मोहब्बत की है अजनबी साहब ने आपसे वो कहां होती है आजकल के छोरों से


Jana Kuch Nahi Rakha In Faltu Ki Baaton Mein

Bas Yoon Samajh Lijiye Ajnabi Sahab Ke Dil Ka Control Hai Aapke Haathon Mein

जाना कुछ नहीं रखा इन फालतू की बातों में 

बस यूं समझ लीजिए अजनबी साहब के दिल का कंट्रोल है आपके हाथों में


Husn Ke Mamle Mein Aapko Hoor Kaha Karte Hai

Ajnabi Sahab Parayi Kanyaon Se Dur Raha Karte Hai

हुस्न के मामले में आपको हूर कहा करते हैं 

अजनबी साहब पराई कन्याओं से दूर रहा करते हैं


Khud Ko Sambhal Paana Ab Mushkil Ho Raha Hai

Aapko Dekhne Ke Liye Tadap Rahe Hai Ajnabi Sahab Ka Dil Ro Raha Hai

खुद को संभाल पाना अब मुश्किल हो रहा है 

आपको देखने के लिए तड़प रहे हैं अजनबी साहब का दिल रो रहा है


Aakar Sambhalo Apne Deewane Ko Doctor Bhi Uske Ilaaj Ko Mana Karte Hai

Kisi Ke Ishq Mein Iss Kadar Bhi Khud Ko Koi Fana Karte Hai

आकर संभालो अपने दीवाने को डॉक्टर भी उसके इलाज को मना करते हैं 

किसी के इश्क में इस कदर भी खुद को कोई फना करते हैं


Wo Marte Marte Bacha Hai

Kehta Hai Ishq Karne Se Marna Accha Hai

वह मरते मरते बचा है 

कहते हैं इश्क करने से मरना अच्छा है


Apne Deewane Ko Kaho Wo Mare Na

Aa Jaogi Tum Wapis Wo Iss Qadar Dare Na

आप अपने दीवानों को कहो वो मरे ना 

आ जाओगी तुम वापिस वो इस कदर डरे ना


Tumhe Soch Soch Ke Muskurana 

Dekh Tu Ajnabi Sahab Ki Yoon Hansi Uda Na

तुम्हें सोच सोच के मुस्कुराना 

देख तू साहब की यूं हंसी उड़ा ना


Jaate Nahi Kisi Ke Paas Mein

Ajnabi Sahab Hai Teri Talash Mein

जाते नहीं किसी के पास में 

अजनबी साहब है तेरी तलाश में


Chakkar Lagata Firta Hai Tere Ghar Ke

Wo Tere Bin Jeeta Hai Mar Mar Ke

चक्कर लगाता फिरता है तेरे घर के 

वो तेरे बिन जीता है मर मर के


Ye Unke Dil Lagane Ke Baad Ka Haal Tha

Ajnabi Sahab Ro Rahe The Udaasi Se Bhara Unka Gaal Tha

ये उनके दिल लगाने के बाद का हाल था 

अजनबी साहब रो रहे थे उदासी से भरा उनका गाल था


Ajnabi Sahab Ro Rahe Hai

Lagta Hai Kisi Se Juda Ho Rahe Hai

अजनबी साहब रो रहे हैं 

लगता है किसी से जुदा हो रहे हैं


Aapko Dekh Ke Khule Balon Mein

Smile Aati Hai Ajnabi Sahab Ke Gaalon Mein

आपको देख के खुले बालों में 

स्माइल आती है अजनबी साहब के गालो में


Charche Ho Rakhe Hai Tere Sahar Ki Gali Gali Mein

Tere Bin Dikkat Hoti Hai Ajnabi Sahab Ki Swas Nali Mein

चर्चे हो रखे हैं तेरे शहर की गली गली में 

तेरे बिन दिक्कत होती है अजनबी साहब की श्वास नली में


Tere Bin Din Kaise Beet Rahe Hai

Ajnabi Sahab Gali Gali Din dhora Peet Rahe Hai

तेरे बिन दिन कैसे बीत रहे हैं 

अजनबी साहब गली गली ढिंढोरा पीट रहे हैं


Shakal Dekh Kar Lagta Hai Dil Ke Mareej Hai

Ajnabi Sahab Kehte Hai Mohabbat Sabse Ghatiya Cheej Hai

शक्ल देख कर लगता है दिल का मरीज है 

अजनबी साहब कहते हैं मोहब्बत सबसे घटिया चीज है


Tere Dur Hone se Dar Lagta Hai

Aur Tera Ignore Karja Ajnabi Sahab Ko Seedha Idhar Lagta Hai

तेरे दूर होने के डर लगता है 

और तेरा इग्नोर करना अजनबी साहब को सीधा इधर लगता है


Kya Kehte Hai 

Parayi Kanya Ko Dekhna Paap Hai

Ajnabi Sahab Ke Dil Mein Sirf Aap Hai

क्या कहते हैं पराई कन्या को देखना पाप है 

अजनबी साहब के दिल में सिर्फ आप हैं


Aur Tumhe Dekhe Bager Jana Nahi Hai

Ajnabi Sahab Ne Tumhare Siwa Kisi Ko Apna Mana Nahi Hai

और तुम्हें देखे बगैर जाना नहीं है 

अजनबी साहब ने तुम्हारे सिवा किसी को अपना माना नहीं है


Ki Hum Shaadi Nahi Karenge Kisi Aur Se 

Hamare Dil Mein Sirf Tu Hai Baat Ye Sun Le Gaur Se

कि हम शादी नहीं करेंगे किसी और से 

हमारे दिल में सिर्फ तू है बात ये सुन ले गौर से


Pata Nahi Kya Ho Jata Hai Jab Aate Samne Aap Hai

Ajnabi Sahab Ko Dhadkane Apni Sunayi Deti Saaf Saaf Hai

पता नहीं क्या हो जाता है जब आते सामने आप है 

अजनबी साहब को धड़कने अपनी सुनाई देती साफ-साफ है


Tu Na Dhyaan De Mere Kaam Dhandho Par

Tu Bas Sar Rakh Ke Soya Kar Ajnabi Sahab Ke Kandho Par

तू ना ध्यान दे मेरे काम धंधों पर 

तू बस सर रख के सोया कर अजनबी साहब के कंधों पर


Kabhi Jaat Aa Jaati Hai Kabhi Paiso Ki Baat Aa Jaati Hai

Dil Tut Jata Hai Mohabbat Mein Mayushi Hum Jaso Ke Haath Aa Jaati Hai

कभी जात आ जाती है कभी पैसों की बात आ जाती है 

दिल टूट जाता है मोहब्बत में मायूसी हम जैसों के हाथ आ जाती है


Jab Se Pata Chala Hai Aapko Humse Pyaar Ho Raha Hai

Ajnabi Sahab Ki Halat Mein Tab Se Sudhaar Ho Raha Hai

जब से पता चला है आपको हमसे प्यार हो रहा है 

अजनबी साहब की हालत में तब से सुधार हो रहा है


Ajnabi Sahab Aapke Sang Ghar Basayenge

Aapko Khud Ro Rojar Hansayenge

अजनबी साहब आपके संग घर बसाएंगे 

आपको खुद रो रो कर हँसायेँगे 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ