Murshad Shayari In Hindi - murshid Shayari

Murshad Shayari In Hindi | मुर्शिद शायरी

Murshad Shayari In Hindi

Man Bhar Chuka Hai Zindgi Se

Murshad 

Dua Karo Hum Mar Jaaye

मन भर चुका है जिन्दगी से

मुर्शद

दुआ करो हम मर जाये

Bohot Der Ho Chuki Hai Murshad

Ab Unne Bhulna Namumkin Hai

बहुत देर हो चुकी है मुर्शद 

अब उन्हें भूलना नामुमकिन है

इसे भी पढ़ें - happy janmashtami Shayari

Murshad Shayari In Hindi

Wo Jinhe Kadar Nahi Meri 

Murshad 

Bohot Pachtayenge Baad Mere Wo

वो जिन्हें कदर नहीं मेरी 

मुर्शद

बहुत पछताएंगे बाद मेरे वो

Murshad shayari sms

Murshad Shayari In Hindi

Ki hum tute Huye Log Hai 

Murshad

Hansi Bhi Pass Hamare Aakar Rone Lagti Hai

की हम टूटे हुए लोग हैं 

मुर्शद

हँसी भी पास हमारे आकर रोने लगती हैं 


Murshad Shayari In Hindi

Meri Maut Par Bhi Koi Rone Waala Tha Nahi 

Murshad 

Kitna Badnaseeb Tha Main

मेरी मौत पर भी कोई रोने वाला था नही

मुर्शद

कितना बदनसीब था मैं

Murshad Shayari two Line

Murshad Shayari In Hindi

Ki Ab Raaton Ko Neend Aati Nahi

Murshad 

Ishq Ho Gaya Hai Humein Lagata Hai

की अब रातों को नींद आती नहीं 

मुर्शद

इश्क़ हो गया है हमें लगता हैं 

Murshad Shayari In Hindi

Wo Jo Dil Tod Dete Hai Kisi Ka 

Murshad 

Ishq Unhe Bhi Hona Chahiye

वो जो दिल तोड़ देते है किसी का

मुर्शद

इश्क़ उन्हें भी होना चाहिए 

Murshad Dil Mein Paida Jiske Liye Pyaar Hua 

Usi Ke Haathon Se Dil Pe Waar Hua..

मुर्शद दिल में पैदा जिसके लिए प्यार हुआ 

उसी के हाथों से दिल पे वार हुआ

Murshad shayari copy paste

Murshad Shayari In Hindi

Wo Kar Rahe The Taiyaari Jaane Ki

Murshad 

Unhe Rokna Humein Bhi Theek Na Laga

वो कर रहे थे तैयारी जाने की

मुर्शद

उन्हें रोकना हमें भी ठीक ना लगा

Murshad Is Ishq Ka Bhi Koi Alternate Hoga

Mila Nahi Aaj Tak Kisi Ka Shayad Bohot Uncha Rate Hoga

मूर्शद इस इश्क का भी कोई अल्टरनेट होगा 

मिला नहीं आज तक किसी को शायद बहुत ऊंचा रेट होगा

Murshad Shayari In Hindi

Maine Suna Hai Unhe Bhi Ishq Ho Gaya Hai

Murshad 

Raat Ko Ab Wo Bhi Jaga Karte Hai

मैंने सुना है उन्हें भी इश्क़ हो गया हैं 

मुर्शद

रात को अब वो भी जागा करते हैं 

Murshad Wo Jinse Dil Laga Hai Mera

Yaar Wo Kisi Aur Ke Saath Bhaga Hai Mera

मुर्शद वो जिनसे दिल लगा है मेरा 

यार वो किसी और के साथ भागा है मेरा

Murshad shayari writer

Murshad Shayari In Hindi

Kisi Kaam Se Nikle The Ghar Se

Murshad 

Unhe Dekha Sab kuch Bhul Gaye Hum

किसी काम से निकले थे घर से

मुर्शद

उन्हें देखा सब कुछ भूल गये हम

Murshad Mohabbat Na Badi Kutti Cheej Hai

Pagal Kar Deti Hai Bade-Bado Ki Cheen Leti Juti Kameej Hai 

मुर्शद मोहब्बत ना बड़ी कुती चीज है 

पागल कर देती है बड़े बड़ों की छीन लेती जूती कमीज है

Murshad Shayari In Hindi

Yoon Har Kisi Se Bair Paloge 

Murshad 

Zindagi Mein Akele Reh Jaoge Tum

यूं हर किसी से बैर पालोगे 

मुर्शद

जिन्दगी में अकेले रह जाओगे तुम

Murshad Dil Jab Kisi Pe Aa Jata Hai

Chain-vain Sab Khud Hi Khud Ka Kha Jata Hai

मूर्शद दिल जब किसी पर आ जाता है 

चैन वैन सब खुद ही खुद का खा जाता है

अंतिम लाइन्स फॉर murshad Shayari - दोस्तों अगर आपको हमारी ये Murshid Shayari अच्छी लगी हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ शारे जरूर करे ।

आपका शुक्रिया 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ